Tag Hindi

Uttarkand – The Story of Vrutrasur

Uttarkand - The Story of Vrutrasur
This entry is part 133 of 133 in the series Ramayana in Hindi एक दिन श्रीरामचन्द्रजी ने भरत और लक्ष्मण को अपने पास बुलाकर कहा, “हे भाइयों! मेरी इच्छा राजसूय यज्ञ करने की है क्योंकि वह राजधर्म की चरमसीमा है।…

Uttarkand – The Story of King Dand

Uttarkand - The Story of King Dand
This entry is part 132 of 133 in the series Ramayana in Hindi महर्षि अगस्त्य से श्‍वेत की कथा सुनकर श्रीरामचन्द्र ने पूछा, “मुनिराज! कृपया यह और बताइये कि जिस भयंकर वन में विदर्भराज श्‍वेत तपस्या करते थे, वह वन…

Uttarkand – The Story of King Shwet

This entry is part 131 of 133 in the series Ramayana in Hindi इन्द्र से वर प्राप्त करके रघुनन्दन राम महर्षि अगस्त्य के आश्रम में पहुँचे। वे शम्बूक वध की कथा सुनकर बहुत प्रसन्न हुये और उन्होंने विश्‍वकर्मा द्वारा दिया…

Uttarkand – The Death of Bhrahmin Balak

This entry is part 130 of 133 in the series Ramayana in Hindi एक दिन श्रीराम अपने दरबार में बैठे थे तभी एक बूढ़ा ब्राह्मण अपने मरे हुये पुत्र का शव लेकर राजद्वार पर आया और ‘हा पुत्र!’ ‘हा पुत्र!’…

Uttarkand – The Slaying of Lavnasur

This entry is part 129 of 133 in the series Ramayana in Hindi अगले दिन प्रातःकाल होने पर जब लवणासुर अपने पुर से बाहर निकला, तब ही शत्रुघ्न हाथ में धनुष बाण ले मधुपुरी को घेर कर खड़े हो गये।…

Uttarkand – The Story of Mandhata

This entry is part 128 of 133 in the series Ramayana in Hindi रात्रि होने पर शत्रुघ्न ने महर्षि च्यवन से लवणासुर के विषय में अन्य जानकारी प्राप्‍त की तथा पूछा कि उस शूल से कौन-कौन शूरवीर मारे गये हैं।…